गाँधी युग | भारतीय इतिहास

⇒ एक बार फिर से आप सभी का स्वागत है आज हम आपके सामने गाँधी युग से सबंधित सभी जानकारी आपके सामने लेकर आये हे और उसमे हम महात्मा गाँधी के बारे में भी जानकारी आप तकम पोह्चायेंगे और महात्मा गाँधी द्वारा देश की आज़ादी के लिए किए गये महत्वपूर्ण आंदोलनों और कार्यो के बारे में जानकारी देंगे तो जरुर पढ़े इस पोस्ट को.

गाँधी युग

  • महात्मा गाँधी का जन्म भारत में गुजरात के पोरबंदर शहर में 2 अक्टूबर 1869 को हुआ था उनकी याद में अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस 2 अक्टूबर को मनाया जाता है.

पूरा नाम :- मोहनदास करमचंद गाँधी

पिता का नाम :- करमचंद गाँधी

माता का नाम:- पुतलीबाई

पत्नि का नाम :- कस्तूरबा गांधी

राजनीतिक गुरु :- गोपाल कृष्ण गोखले

1915 : –

⇒ अफ्रीका में 21 साल गुजार कर महात्मा गांधी भारत लौटे गांधी जी को ब्रिटिश सरकार ने ” केसर – ए – हिंद” की उपाधि से सम्मानित किया गया.

1916 : –

  • गांधीजी ने अहमदाबाद के नजदीक साबरमती आश्रम की स्थापना की.

1917 : –

⇒ गांधीजी के आंदोलन शुरू हो गए सबसे पहला आंदोलन बिहार के चंपारण जिले – नील की खेती का विरोध

→ दूसरा आंदोलन गुजरात के खेड़ा जिले में – कर नहीं आंदोलन

⇒ तीसरा आंदोलन अहमदाबाद में – मजदूरों के साथ भूख हड़ताल

1919 : –

19 मार्च 1919 को ब्रिटिश सरकार ने रौलेट एक्ट लागू कर दिया इसका विरोध करने के लिए 13 अप्रैल 1919 को अमृतसर के जलियांवाला बाग में एक जनसभा आयोजन हुआ इस जनसभा में जनरल डायर ने गोलियां चलवा दी जिसमें लगभग 1000 व्यक्ति मारे गए इस समय वायसराय थे – लॉर्ड चेम्सफोर्ड.

1920 : –

1 अगस्त 1920 को महात्मा गांधी ने ” असहयोग आंदोलन ” शुरू किया 5 फरवरी 1922 को गोरखपुर जिले के चौरी चौरा जगह पर आंदोलनकारियों ने गुस्से में आकर पुलिस स्टेशन में आग लगा दी जिससे गांधीजी ने यह आंदोलन को बंद कर दिया.

1924 : –

  • महात्मा गांधी सिर्फ एक बार कांग्रेस के अध्यक्ष चुने गए बेलगांव अधिवेशन में.

1925 : –

• 9 अगस्त 1925 को रेलगाड़ी से सरकारी खजाना ले जाया जा रहा काकोरी स्टेशन पर राम प्रसाद और बिस्मिल और अशफाकउल्ला खां ने लूट लिया जिसे काकोरी कांड कहा जाता है इस वजह से इन तीनो को 1927 में फांसी दी दे गई.

1927 : –

भारत का संविधान बनाने के लिए साइमन कमीशन की नियुक्ति की गई इसने 3 फरवरी 1928 को भारत में प्रवेश किया इस कमीशन का जोरदार विरोध करने के कारण लाला लाजपत राय पर जान बुज कर सरपर लाठियों से वार किया गया जिससे उनकी मोत हो गई

1930 : –

⇒ 12 मार्च 1930 को गांधीजी ने 79 साथियो के साथ साबरमती से डांडी 322 किलोमीटर की पैदल यात्रा की 6 अप्रैल 1930 को डांडी में नमक कानून तोड़ा.

गोलमेज सम्मेलन : –

  • 1930 से लेकर 1932 तक गोलमेल सम्मेलन हुए और इसमें भारतीय संविधान लगभग 40 % पूरा लिखा जा चूका था.

1935 : –

  • 1935 में भारत सरकार सुधार अधिनियम पारित किया गया जिसमें सांसदों की सीटें निर्धारित की गई

1940 : –

मोहम्मद अली जिन्ना ने अलग पाकिस्तान बनाने की मांग कर दी पेहली बार पाकिस्तान नाम चौधरी रहमत अली ने दिया 1942 में गांधी जी ने ” भारत छोड़ो आंदोलन “ की शुरुआत की और भारत छोड़ कर जाने के लिए अंग्रेजों को मजबूर कर दिया.

1946 : –

  • कैबिनेट मिशन : – इस मिशन के दोरान भारत का संविधान पूरा बनकर तैयार हो गया.

1947 : –

माउंटबेटन योजना के अनुसार पाकिस्तान और भारत दोनों अलग देश बना दिए गए और बॉर्डर का नाम दिया गया.

  • भारत – पाकिस्तान रेखा- रेडक्लिफ रेखा

महात्मा गांधी जी के प्रमुख आंदोलन

चम्पारण सत्याग्रह – 1917

खेड़ा सत्याग्रह – 1918

अहमदाबाद मिल मजदूर आंदोलन – 1918

खिलाफत आन्दोलन – 1920

असहयोग आंदोलन – 1920

नमक आंदोलन  – 1930

भारत छोड़ो आंदोलन – 1942

तो दोस्तों इस पोस्ट में गाँधी युग से बनने वाली सभी जानकारी आप तक पोहचायी आशा है आपको पसंद आयेगी इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करना ना भूले.

यह भी पढ़े.

Major Ports of India | भारत के प्रमुख बंदरगाह

Leave a Comment